11 February 2010


कैमरे का एंगल बदल इस चित्र को और खूबसूरत बनाया जा सकता था, पर बात तो यही कहनी थी, हाथ तो यूं ही थामना था, प्यार तो यही रहना था।

5 comments:

tanu sharma.joshi said...

how sweet...!!

Udan Tashtari said...

बिल्कुल सही कहा..एंगल बदलने से प्रीत नहीं बदलती.

डॉ .अनुराग said...

एक काला टीका .....

राज भाटिय़ा said...

बहुत सुंदर, साथ मै बहुत बहुत बधाई, आप की पीछली पोस्ट भी पढूंगा

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन said...

एंगल बदलने से प्रीत नहीं बदलती, तो भी एक चित्र और पोस्ट कीजिये जिसमें नन्हा हाथ बड़ी हथेली के ऊपर हो [just a request]